क्या आप मेडिटेशन के लाभ जानते हैं?

क्या आप जानते हैं ? मेडिटेशन के अभ्यास का हमें क्या-क्या फायदे मिलते हैं। अगर आप नहीं जानते हैं कि मेडिटेशन का हमें क्या-क्या लाभ मिलता है तो हमारे इस लेख को पूरा पढ़िए और समझिए हमें ध्यान योग का क्या फायदे मिलते हैं?

मेडिटेशन के लाभ

आज सबसे ज्यादा लोग तनाव से ग्रस्त हैं। तनाव को कम करने के लिए हमें मानसिक व शारीरिक रूप से स्वस्थ होने की जरूरत है। आज हर व्यक्ति पैसे के पीछे भाग रहा है जबकि स्वस्थ जीवन ही हमारा मूल उद्देश्य है। जब हम स्वस्थ रहेंगे तभी हम मनुष्य जीवन का सही आनंद उठा पाएंगे।

स्वस्थ जीवन के लिए सबसे आसान व सस्ता उपाय मेडिटेशन को अपनी दिनचर्या में शामिल करना है। जब हम योग और मेडिटेशन को अपने जीवन में शामिल करते हैं तो हम स्वस्थ जीवन की ओर जाते है। मेडिटेशन करने से हमारा तनाव कम होता है और कई बीमारियाँ दूर होती है।

जब हम मेडिटेशन का अभ्यास करने लगते है तो हमारा तनाव कम होने लगता है। जिससे हमारी चिंता उतनी कम होने लगती है। आज एक युवा से लेकर हर व्यक्ति तनाव और चिंता से ग्रस्त है। हमारे मन में कई सवाल उठते हैं जैसे समाज क्या कहेगा, हमें यह कार्य करना चाहिए या नहीं इत्यादि। इन सवालों से हम चिंता में खो जाते हैं। इसलिए हमें मेडिटेशन का अभ्यास कर अपनी चिंताओं को दूर करने का लाभ लेना चाहिए। ध्यान का नियमित अभ्यास करने से हमारे शरीर में नई ऊर्जा व शक्ति का संचार होता है।

वैसे मेडिटेशन के  विभिन्न प्रकार हैं। मेडिटेशम हमारी भावनात्मक स्वास्थ्य को बढ़ाता है। मेडिटेशन को अपनाने से हमारा नज़रिया अपने प्रति बदलता है। हमारा हमारे जीवन के प्रति दृष्टिकोण सकारात्मक होता है। जो लोग नियमित मेडिटेशन करते हैं, उन लोगों की तुलना में जो लोग मेडिटेशन नहीं करते हैं उनकी मानसिक व शारीरिक क्षमता बेहतर होती है। जिससे मेडिटेशन करने वाले लोग अपने मस्तिष्क को अपने नियंत्रण में रखते है। हाँ इससे उनकी सोच और जीवन में बदलाव होते हैं।

योग और मेडिटेशन का अभ्यास हमारी एकाग्रता को बढ़ाता है। जिससे हमें गहराई से सोचने में मदद मिलती है। एकाग्रता से ही हम ध्यान की गहराई को अच्छे से महसूस कर पाते है। मेडिटेशन के लिए हमें अपने अंदर एकाग्रता बनाने की जरूरत होती है। मेडिटेशन का फायदा हमें नियमित रूप से करने पर ही मिल पाता है।

अगर आप नियमित रूप से मेडिटेशन का अभ्यास करते हैं, तो आप इसे महसूस करना शुरु कर देते है। मेडिटेशन के अभ्यास से हमारी स्वयं की जागरुकता बढ़ती है। जिससे हम अपनी परेशानियों और खुद पर नियंत्रण कर सकते है। योग और ध्यान क्रिया आपको खुद को समझने में सहायता करता है। योग और ध्यान से आप कई लोगों से जुड़ सकते हैं। योग और ध्यान के हमारे जीवन में कई फायदे दिखाई देते है। 

जिस प्रकार मेडिटेशन का नियमित अभ्यास हमारी एकाग्रता में सुधार करता है, उसी प्रकार ध्यान क्रिया हमारी पाचनशक्ति को भी मजबूत करती है। जिससे हमें पेट संबंधित बीमारियाँ नहीं होती है। कई विद्धानों का मानना हैं कि योग और ध्यान हमारी एकाग्रता व याददाश्त में बढ़ोत्तरी करता है। ध्यान हमें दयालु व नरम हृदय बनाता है। ध्यान क्रिया से हमारे मन-मस्तिष्क में दूसरों के लिए सकारात्मक प्रतिक्रियाएँ बढ़ती है। 

इतना ही नहीं ध्यान और योग हमें बुरी आदतों से भी छुटकारा देता है। ध्यान से हमारा मानसिक अनुशासन बढ़ता है। जिससे हमें स्वयं पर नियंत्रण रखकर जीवन की कठिनाइयों से लड़ पाते हैं। हमें मेडिटेशन इसलिए भी अपने जीवन में अपनाना चाहिए क्योंकि आज हमारा खान-पान सब मिलावटी हो गया है।

जिसके कारण हम आज किसी ना किसी बीमारी से ग्रस्त रहते हैं। ध्यान से हमारी इच्छाशक्ति और भावनाओं में बढ़ोत्तरी होती है। आज कल की भाग-दौड़ भरी जिंदगी में हम अपने शरीर को भरपूर आराम  नहीं दे पाते हैं। जिससे हमें कई समस्याओं से ग्रस्त होने लगते हैं। इसलिए हमें अपने शरीर को आराम देने के लिए व अपनी नींद में सुधार करने के लिए योग व ध्यान को अपनाना चाहिए। ध्यान क्रिया का नियमित अभ्यास करने से हमें सही समय पर सही और गहरी नींद आती है।

वैसे जैसा हम सोचते हैं, वैसा ही हम हो जाते हैं। जब हम किसी समस्या के बारे में ज्यादा सोचेंगे तो हम इसे उतना ही अधिक महसूस करेंगे। अगर हम अपने ध्यान को इस समस्या से हटा देंगे तो हम उस समस्या का हल खोज पाएंगे। मगर इसके लिए हमें मेडिटेशन की जरूरत होती है क्योंकि मेडिटेशन ही हमें अपने मन पर नियंत्रण करना सीखाता है। जब हम नियमित मेडिटेशन का अभ्यास करते है, तो हमारे स्वस्थ में सुधार होने लगता है। जी हाँ आज हमें स्वस्थ जीवन के लिए मेडिटेशन को अपनी दिनचर्या में शामिल करने की सख्त जरूरत है।

Leave a Comment