आइए आप भी जानिए हठयोग क्या है ?

हठयोग का अर्थ है- किसी व्यक्ति द्वारा जिदपूर्वक या हठपूर्वक किया जाने वाला योग अभ्यास हठयोग कहलाता है। हठयोग शब्द ह और ठ से मिलकर बना है। ह का अर्थ- हकार यानि सूर्य नाड़ी, ठ का अर्थ- ठकार यानि चंद्र नाड़ी होता है। हठयोग के हकार और ठकार शब्द को संस्कृत शब्दार्थ कौस्तुभ ने भीContinue reading “आइए आप भी जानिए हठयोग क्या है ?”

आप भी जानिए योग के प्रमुख प्रकार कौन-कौन से हैं ?

योग एक प्रकार की आध्यात्मिक प्रक्रिया है। जिसके हमें मानसिक व शारीरिक रूप से लाभ होते है। योग के माध्यम से हम अपने शरीर, मन और आत्मा को एक साथ ला सकते है। योग शब्द से लगभग संपूर्ण संसार परिचित है। योग एकमात्र स्वस्थ रहने का सबसे आसान व सरल माध्यम है। योग के माध्यमContinue reading “आप भी जानिए योग के प्रमुख प्रकार कौन-कौन से हैं ?”

जानिए योग निद्रा से कैसे अपने शरीर को विश्राम दें ?

आजकल हर इंसान आराम कम और पैसों के पीछे अधिक भागता नजर आता है। जिसके कारण आज पूरा मानव समाज गंभीर बीमारियों से ग्रस्त होता जा रहा है। अगर वक्त रहते मानव समाज नहीं जागा तो मानव समाज का भविष्य कठिनाई भरा होगा। इसलिए हमें आज स्वस्थ जीवन के लिए योग, मेडिटेशन को अपनी दिनचर्याContinue reading “जानिए योग निद्रा से कैसे अपने शरीर को विश्राम दें ?”

क्या आप नाड़ी शोधन प्राणायाम के बारे में जानते हैं ?

नाड़ी शोधन प्राणायाम यानि सूक्ष्म ऊर्जा प्रणाली से शुद्ध साँस लेने की एक विशेष प्रकार की प्रक्रिया है। हमारे शरीर की नाड़ियाँ हमारी सूक्ष्म ऊर्जा का केंद्र है, जो कई कारणों से बंद हो जाती है। नाड़ी शोधन प्राणायाम हमारी साँस लेने की एक ऐसी प्रक्रिया है जो हमारी नाड़ियों की सूक्ष्म ऊर्जा प्रणाली कोContinue reading “क्या आप नाड़ी शोधन प्राणायाम के बारे में जानते हैं ?”

आइए भ्रामरी प्राणायाम के बारे में जानते है।

भ्रामरी प्राणायाम का नाम भ्रामरी मधुमखी के नाम से पड़ा है। भ्रामरी प्राणायाम के अभ्यास के दौरान मधुमखी की आवाज निकलती है, इसलिए इसे भ्रामरी प्राणायाम कहते है। इस प्राणायाम के अभ्यास से हमारा मन और मस्तिष्क शांत होता है। आपको बता दें भ्रामरी प्राणायाम का अभ्यास बहुत ही आसान है। इस प्राणायाम के अभ्यासContinue reading “आइए भ्रामरी प्राणायाम के बारे में जानते है।”

क्या आप अधोमुख श्वानासन के फायदे जानते है ?

हमारे योगाशास्त्रों में योगासनों का जिक्र करते हुए कहा गया है कि योगासन की संख्या इस संसार में मौजूद जीवों की संख्या के बराबर है। योग का एक अहम आसन अधोमुख श्वानासन है। इस आसन को अष्टांग योग में बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है और यह आसन सूर्य नमस्कार का 7 वां आसन है।Continue reading “क्या आप अधोमुख श्वानासन के फायदे जानते है ?”

आप भी जानिए महिलाओं को स्वस्थ रहने के लिए किन योगासनों का अभ्यास करना चाहिए ?

इस आधुनिक युग में हम सभी को शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए योग को अपनाने की जरूरत है। योग स्वस्थ रहने का सबसे आसान व किफायती तरकीब है। योग के माध्यम से हम अपने मन-मस्तिष्क को शांत रख सकते है। योग का अभ्यास हम सभी के लिए फायदेमंद हैं, चाहे वहContinue reading “आप भी जानिए महिलाओं को स्वस्थ रहने के लिए किन योगासनों का अभ्यास करना चाहिए ?”

क्या आपको सूर्य नमस्कार के फायदे पता हैं ?

आप ने कई लोगों को योग और सूर्य नमस्कार के बारे में बात करते हुए सुना व देखा होगा और आप योग के बारे में थोड़ी बहुत जानते भी होंगे। आपको बता दें कि सूर्य नमस्कार भी योग का ही एक हिस्सा है। सूर्य नमस्कार के नियमित अभ्यास से हम स्वस्थ जीवन की ओर कदमContinue reading “क्या आपको सूर्य नमस्कार के फायदे पता हैं ?”

आइए प्राणायाम के बारे में जानते हैं।

प्राणायाम शब्द प्राण+आयाम से मिलकर बना है। जिसका अर्थ होता है- जीवन शक्ति को लंबा करना या अपने सांसों पर नियंत्रण करना व श्वास का विस्तार ही प्राणायाम कहलाता है। हमारे शरीर में प्राण शक्ति का प्रवाह ही हमें जीवन शक्ति प्रदान करता है। प्राणायाम यानि हमारे शरीर को जिंदा और हमारे मन को शक्तिContinue reading “आइए प्राणायाम के बारे में जानते हैं।”

जरा आप भी जानिए सूर्य नमस्कार क्या है ?

योग शब्द सुनते ही हमारे दिमाग में सबसे पहले सूर्य नमस्कार आता है। सूर्य नमस्कार का अर्थ है- सूर्य को मन से अर्पण करना या नमस्कार करना है। सूर्य नमस्कार हमारे शरीर को स्वस्थ और हमारे मन को शांत रखने में सबसे उपयोगी और उत्तम तरीका है। सूर्य नमस्कार में 12 योग आसनों का समन्वयContinue reading “जरा आप भी जानिए सूर्य नमस्कार क्या है ?”